Skip to content

IPS Aur Amoled Display Me Kya Antar Hai

ips amoled tecneuz

आज हम इस आर्टिकल में दो डिस्प्ले के बारे में बात करेगे. जिसका यूज़ आज के समय ज्यादातर स्क्रीन मैन्युफैक्चरिंग कंपनी करती है. तो आज हम यही जानने का प्रयास करेंगे की IPS Aur Amoled Display Me Kya Antar Hai

जब भी हम कोई लैपटॉप, Smartphone, टीवी आदि लेने मार्किट में जाते है तो दुकानदार कुछ स्क्रीन आप्शन के बारे में पूछता है की आपको कौन सा वाला डिस्प्ले चाहिए. तब ज्यादातर लोग कंफ्यूज हो जाते है क्युकी उन्हें टेक की इतनी नॉलेज नहीं तो है. आइये जानने का प्रयास करते है की IPS(LCD) और Amoled में कौन Best है.

IPS Aur Amoled Display Me Kya Antar Hai

IPS Display – In Plane Switching

Amoled Display – Active Matrix Organic Light Emitting Diode

IPS(LCD) Display

IPS डिस्प्ले का उपयोग लगभग हर बजट प्रोडक्ट में किया जाता है क्युकी यह सस्ता होता है जिससे प्रोडक्ट की कीमत कम रहती है. इस डिस्प्ले को TFT डिस्प्ले के एक लेवल ऊपर रखकर बनाया गया है. इस डिस्प्ले का कलर और शार्पनेस अच्छा होता है. IPS डिस्प्ले को बैकलाइट की जरुर पड़ती है क्युकी इसमें अमोलेद में तरह हर पिक्सेल में लाइट नहीं होती है. और यह Amoled डिस्प्ले से सस्ता होता है. इस डिस्प्ले की थिकनेस अमोलेद से ज्यादा होती है. और यह ज्यादा बैटरी खर्च करता है.

Amoled Display

Amoled नाम की शुरुआत Samsung ने की थी. जो की OLED Display का ही एक अपडेट वर्शन है. यह IPS से पतला और महंगा भी होता है. इसको इसी प्रोडक्ट में लगाने का खर्च भी ज्यादा आता है. जिससे प्रोडक्ट की कीमत बढ़ जाती है. इस डिस्प्ले के हर पिक्सेल की खुद का लाइट होता है. जिसकी मदद से जितने एरिया को लाइट की जरुर पड़ती है तो उतने एरिया को छोड़कर बाकि पिक्सेल की लाइटे बाद हो जाती है. जिसके उस एरिया में दीप ब्लैक दिखाई देता है और बैटरी भी कम लेता है और इसका कलर सेचुरेशन IPS से बेहतर होता है.

IPS Aur Amoled Display Me Kya Antar Hai

निष्कर्ष

Amoled Display IPS,TFT Display से बहुत ज्यादा अलग होते है. जहा IPS Display को लाइट को दिखने के लिए Backlight का जरूतर होता है लेकिन वही पर Amoled Display के हर एक पिक्सेल में लाइट उप करने के Led सिस्टम लगा होता है. जिससे कलर एकदम शार्प और ब्लैक और ज्यादा दीप ब्लैक दिखाई देता है. जबकि LCD या कहे तो LED Display में लाइट के लिया हर एक पिक्सेल के पास खुद के लिए लाइट नहीं होती है.

इसे भी पढ़ें – Augmented Reality (AR) क्या है?

अगर आपको हमारा Post पसंद आया तो Comment और Share करे.

Leave a Your Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *